जिला खेल कार्यालय

सरकार ने जिला क्रीड़ा अधिकारी की अध्यक्षता में 1969 में जींद में खेल कार्यालय स्थापित किया था । उन्होंने 28 कोचों (हॉकी, कुश्ती और वॉली-बॉल) की सहायता ली है।सरकार ने नेहरू स्टेडियम का निर्माण किया, जहां हॉकी, कुश्ती, और वॉली-बॉल में कोचिंग करने वाले युवा लड़के और लड़कियों का आयात किया जाता है । जिले की टीमों के चयन के लिए समय-समय पर कोचिंग कैंप आयोजित किए जाते हैं । प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ियों को आगे विशेष प्रशिक्षण के लिए राज्य स्तरीय कोचिंग शिविर में भेजा जाता है|

खेल-कूद के प्रोत्साहन के लिए खेल विभाग विभिन्न एसोसिएशन व संस्थाओं को वित्तीय सहायता देता है । विभिन्न खेलों में प्रशिक्षण के लिए पुरुषों और महिलाओं के लिए अलग से कोचिंग सेंटर स्थापित किए जा रहे हैं ।

ग्रामीण क्षेत्रों में खेल क्रिया को बढ़ावा देने के लिए जिले में विभिन्न स्थानों पर यूथ क्लबों का गठन किया गया है ।